69000 SHIKSHAK BHARTI : डेढ़ लाख अभ्यर्थियों को शॉर्टलिस्ट करने का प्रस्ताव