• Primary ka master | uptet news

    Saturday, February 23, 2019

    69000 SHIKSHAK BHARTI COURT UPDATE : आज की सुनवाई का सार : बीएड टीम द्वारा 22-02-2019

    हाइकोर्ट लखनऊ 69000 केस अपडेट####
    संघर्ष के साथियों नमस्कार।।दोस्तों आज अपने केस की सुनवाई 3 बजे से शुरू हुई औऱ वादी पक्ष के एल पी मिश्रा जी ने शिक्षामित्रों के मैटर पर वही आनन्द बनाम स्टेट का केस मर्सी को लेकर बोलने लगे जिदमे इनको दो मौके औऱ वैटेज की बात थी और आखिरी मौका भी याद दिलाया।।फिर उसके बाद प्रशिक्षु शिक्षक और सहायक अध्यापक के अंतर को समझाकर बीएड को टारगेट करने लगे।।यह कहने लगे कि बीएड वालों को ट्रेनी टीचर के तौर पर नियुक्ति हो सकती है जबकि विज्ञापन सहायक अध्यापक का है।।इसके पहले बीएड के अधिवक्ता आनंद मणि त्रिपाठी ,प्रशान्त चन्द्रा और बीटीसी के अधिवक्ता अनिल तिवारी जी ने प्रशिक्षु शिक्षक औऱ सहायक अध्यापक के विषय मे एनसीटीई के राजपत्र के जरिये अच्छे से पक्ष पूर्व में रख दिया था लेकिन यह सब मानने वाले नही हैं।।यह भी जिक्र किया था कि सरकार 2 साल के अंदर 6 महीने का ब्रिज कोर्स करवा देगी।।यह सब एनसीटीई के राजपत्र में भी लिखा हुआ है।।आज डेढ घंटे की बहस केवल बीएड के विरोध में हुई है जबकि मुद्दा तो कट ऑफ का था।।आखिरी में 15 मिनट अमरेन्द्र नाथ त्रिपाठी जोकि बीटीसी के अधिवक्ता थे उन्होंने बड़े अच्छे ढंग से 23 अगस्त 2010 के एनसीटीई के राजपत्र के जरिये जज साहब को समझाया और यह कहा कि यह पूरी तरह वैध हैं और सरकार चूंकि गवर्निंग ऑथोरिटी है तो उसने जब कोई विज्ञापन नही जारी किया तो खेल कहाँ से शुरू हो गया है जबकि खेल तो तब शुरू होगा जब सरकार विज्ञापन जारी करेगी और सभी जिलों के बेसिक शिक्षा अधिकारी विज्ञापन जारी करेंगे इसलिए कट ऑफ 60-65सही है और यह सरकार के अधिकार क्षेत्र में भी है।।हमारे कई साथी इससे परेशान होंगे कि क्या बीएड बाहर हो जाएगा तो उनका सोचना गलत है और परेशान होने की जरूरत नही है।।
    आज डेढ़ महीने लंबी सुनवाई हनी के बाद फैसला सुरक्षित हो गया है जोकि 4-5दिन में आ जायेगा।।इतना तय है कि भर्ती 60-65 पर ही होगी।।
    अखिलेश कुमार शुक्ला
    बीएड मोर्चा लखनऊ

    Primary Ka Master

    Basic Shiksha News

    UPTET