PRIMARY KA MASTER : विद्यालय प्रबंध समितियां भी अब प्रेरणा एप पर

सरकारी स्कूलों के प्रबंधन और योजनाओं पर नजर रखने वाले अभिभावकों को भी प्रेरणा ऐप से जोड़ा जा रहा है। विद्यालय प्रबंध समितियों के अध्यक्षों, उपाध्यक्षों समेत सभी सदस्यों के फोन नंबर ऐप पर मौजूद रहेंगे। वहीं योजनाओं के बारे में जानकारी देने के लिए समितियों का प्रशिक्षण 16 नवम्बर से शुरू होगा। इसके लिए राज्य सरकार ने 19.24 करोड़ रुपये जारी कर दिये गये हैं।

समग्र शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने आदेश जारी कर दिये हैं। श्री आनंद ने सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि प्रबंध समितियों के अध्यक्षों को अपनी बैठकों का कार्यवृत्त प्रेरणा ऐप पर अपलोड करना होगा। इसके लिए जनपहल माड्यूल जारी किया जा चुका है।

सरकारी स्कूलों के प्रबंधन में समुदाय को शामिल करने के उद्देश्य से विद्यालय प्रबंध समितियां बनाने का नियम हैं। इस समिति में स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावक होते हैं। इन्हें स्कूल संबंधित कई सारे काम करने का जिम्मा सौंपा जाता है। इन अभिभावकों को हर तीसरे साल प्रशिक्षित किया जाता है क्योंकि यह समिति तीन साल के लिए बनाई जाती है। यह प्रशिक्षण 16 नवम्बर से 30 दिसम्बर के बीच दिया जाएगा।वहीं इन प्रबंध समितियों की बैठकों का ब्यौरा कागजों में रखने के लिए रजिस्टर भी छपवाये जाएंगे। स्कूलों में इन्हें रखा जाएगा। प्रदेश भर के लिए स्कूलों के लिए 1.59 लाख रजिस्टर छपवाए जाने हैं। इन्हें छपवाने के लिए भी 3 करोड़ रुपये की धनराशि जारी कर दी है।